Home National कोरोना के बढ़ते मामलों पर गुजरात हाईकोर्ट सख्त, कहा- लॉकडाउन की जरूरत...

कोरोना के बढ़ते मामलों पर गुजरात हाईकोर्ट सख्त, कहा- लॉकडाउन की जरूरत है

106
गुजरात उच्च न्यायालय

गुजरात उच्च न्यायालय

गुजरात में कोरोनावायरस: कोर्ट ने सरकार से स्थिति के आधार पर जल्द ही जल्द निर्णय लेने को कहा है। हाईकोर्ट ने कहा कि राज्य में 3 से 4 दिन कर्फ़्यू और वीकेंड कर्फ्यू के सिलसिले में सरकार फैसला ले।

गांधीनगर। गुजरात हाईकोर्ट (गुजरात उच्च न्यायालय) ने राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने टिप्पणी की है कि राज्य में लॉकडाउन की जरूरत है। कोर्ट ने स्थिति के आधार पर जल्द ही जल्द निर्णय लेने को कहा। हाईकोर्ट ने कहा कि राज्य में 3 से 4 दिन कर्फ़्यू और वीकेंड कर्फ्यू के सिलसिले में सरकार का फैसला ले। गुजरात में सोमवार को पहली बार एक दिन में 3,000 को विभाजित -19 मामले आए। राज्य में कुल 3,160 मामले आए। पंद्रह लोगों ने संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया।

सिविल अस्पताल, अहमदाबाद के अधिकारियों ने बताया कि पिछले नौ दिनों में कुल 899 रोगियों को कोरोना संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इनमें टीकाकरण के योग्य 95 प्रति लोगों को टीका नहीं लगाया गया था।

हर घंटे आने वाले 132 नए मामले हैं
अंग्रेजी पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ। जेपी मोदी ने कहा कि अस्पताल में भर्ती 899 रोगियों में से केवल 93 को ही कोरोना रोधी टीके को पहले डोज मिला था। इनमें से 21 मरीजों को दोनों डोज मिले थे।

यूट्यूब वीडियो

बता दें वर्तमान में राज्य में वर्तमान में 16 हजार 252 सक्रिय मामले हैं और 167 मरीज वेंटिलेटर पर हैं। राज्य के कुल मामलों की संख्या की बात करें तो 3 लाख 21 हजार 598 है और कुल मृत्यु का आंकड़ा 4 हजार 581 तक पहुंच गया है। अकेले अप्रैल के पांच दिनों में 13,900 मामले और 66 मौतें हुई हैं। मौजूदा हालात में हर घंटे 132 लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं।

इससे पहले सोमवार को कोरोना के संक्रमण (कोरोनावायरस) पर लगाम लगाने के लिए गुजरात सरकार ने 7 महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। इसको लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल की बैठक में कोर कमेटी की एक बैठक हुई। इस बैठक में कोरोना के रोगियों को ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने का भी फैसला लिया गया है। अब लोगों को सिर्फ एक रुपये में संकाय बांटे जाएंगे।

60% ऑक्सीजन चिकित्सा सुविधाओं के लिए रिजर्व
बैठक में फैसला लिया गया है कि राज्य में ऑक्सीजन के निजी उत्पादकों को कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए 60 प्रतिशत ऑक्सीजन देना होगा। उत्पादन की आपूर्ति का केवल 40 प्रतिशत वे औद्योगिक उपयोग के लिए दे सकते हैं।

मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री ने राज्य के 8 महानगरीय निगमों में 500-500 बिस्तर वाले को विभाजित केंद्र खोलने का फैसला लिया है। इसकी जिम्मेदारी 8 आईएएस-आईएफएस अधिकारियों को दी गई है। ऐसे कोविड हेल्थकेयर सेंटर के लिए अधिकतम दो हजार प्रति दिन के लिए जाना होगा। इस चार्ज में रेमेडिविवर इंजेक्शन की लागत शामिल नहीं है यानी इस तरह के इंजेक्शन का अलग से चार्ज किया जाएगा।



<!–

–>

<!–

–>

window.addEventListener(‘load’, (event) =>
nwGTMScript();
nwPWAScript();
fb_pixel_code();
);
function nwGTMScript()
(function(w,d,s,l,i)w[l]=w[l])(window,document,’script’,’dataLayer’,’GTM-PBM75F9′);

function nwPWAScript()
var PWT = ;
var googletag = googletag

// this function will act as a lock and will call the GPT API
function initAdserver(forced)
if((forced === true && window.initAdserverFlag !== true)

function fb_pixel_code()
(function(f, b, e, v, n, t, s)
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function()
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
;
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
)(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);


कोरोना के बढ़ते मामलों पर गुजरात हाईकोर्ट सख्त, कहा- लॉकडाउन की जरूरत है

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here