Home Bollywood Movie Reviews बाला मूवी रिव्यू आयुष्मान खुराना यामी गौतम भूमि पेडनेकर

बाला मूवी रिव्यू आयुष्मान खुराना यामी गौतम भूमि पेडनेकर

5
बाला मूवी रिव्यू आयुष्मान खुराना यामी गौतम भूमि पेडनेकर

आयु सलमान खुराना पिछले दो सालों में लगातार सुपरहिट फिल्में दे चुके हैं। जबरदस्त कंटेंट और शानदार ह्यूमर के बादशाह बन चुके युग सलमान खुराना इस शुक्रवार को मर्दों में ‘गंजेपन’ की समसया पर अगली फिल्मम लाए हैं, जिसका टाइटल है ‘बाला’। जी हां, एक गंजे की कहानी जिसका नाम बाली उसके खूबसूरत बालों के कारण ही पड़ा है। जानिए इस बार ‘बाला’ के रूप में आयु सलमान बॉक्‍स ऑफिस पर करता है।

कहानी
ये कहानी है बालमुकुंद शुक्ला यानी बाला (आयुष्मान खुराना) की, जो अपने सिल्की और शायनी बालों से बेहद प्यार करता है। शूल टाइम से ही बाला कानपुर का शाहरुख खान है, व्हपर शोकुल की कई लड़कियां मरती हैं। लेकिन फिर आता है जवानी का दौर जब बाला के ‘बाल’ उसे अलविदा कहना शुरू करते हैं और यहां से शुरू होता है उन्हें फिर से पाने की जंग। अपने बालों को वापस लाने के लिए बालाओं के नुस्खे अपनाता है और इसी तरह पीयार भी कर बैठता है। बालों को वापस लाने के कारण बाला आखिर में एक शानदार नुस्खा अपनाता है और फिर शुरू होता है धमाकेदार उठापटक।

‘गंजेपन’ से कही आगे है ‘बाला’सबसे पहले तो साफ कर दूं कि ‘बाला’ महज गंजेपन की कहानी नहीं है। फिल्‍ गंजापन ’इस फिलम के मुख्‍य किरदार की कहानी है लेकिन यह फिल्‍म उसे कहीं आगे है, काफी कुछ को समेटती और इस ती काफी कुछ’ को 2 घंटे के शानदार पैकेज में देने के लिए सभी निर्देशक निर्देशक अमर कौशिक को। पिछले साल ‘शत्रि’ जैसी शानदार फिल्मेंम से बॉलीवुड में बतौर निर्देशक अपनी यात्रा शुरू करने वाले अमर कौशिक से ‘बाला’ से कम उम्मीयत भी नहीं की जानी चाहिए। ये फिल्मम हर उस शख्स को अपने साथ जोड़ती है जो कभी न कभी अपनी लाइफ में अपने लुक्स को लेकर, अपनी कमियों को लेकर ताने सुनता रहा है। जहां कई लोग इन तानों के साथ लाइव सीख जाते हैं तो कई सुंदरता के इन पैमानों में खुद को फिट करने के लिए सबकुछ करने लगते हैं, बाला की तरह।

जबरदस्त कपड़ा है ‘कान्हेपुर’ का सुर
इस फिल्मम की परफॉर्मेंस या किसी और फेस पर बात करने से पहले बता दें कि फिल्मेंम के सबसे बड़े नायक हैं इसके डायलॉग या शानदार हैं। सिर्फ एक्टर ही नहीं, लगभग हर किरदार के मुंह से निकले शब्बीद मेरा नहीं किया जा सकता है। लिंगसप है कि आयु समान खुराना, राजकुमार राव जैसे एक्टर्स ने अपनी फिल्मोंमों से अब ‘कंटेंट ड्रिवन फिल्म्स’ और ‘मसाले’ फिल्मोंमों के बीच की लकीर पूरी तरह से हटा दी है। बाला एक फन इंटर्नटेनिंग फिल्म्स है, जिसमें खूब मसाला है और खूब सारा कंटेंट है। अमर कौशिक ने ‘कान्हेपुर’ (कानपुर) का सुर शानदार तरीके से पकड़ा है इसलिए काफी मजा आएगा।

फिल्मोंम के तीनों मुख्‍य किरदारों की बात करें तो आयु सलमान इस बार भी दिल जीतते हैं। वह अपने रोल में इतने कंवेंसिंग हैं कि आप उनकी तकलीफ, उनके दर्द से खुद को जुड़ा महसूस करते हैं। भूमि भी अपने किरदार में शानदार हैं। यामी गौतम का किरदार काफी मजेदार है और उन्होंने खुद को सही समझा। खासकर जब टिक-टॉक की दुनिया में रहने वाली लखनऊ की परी (यामी) अपने पति की असलीयत पता चलने पर पंजाबी में ‘हायो रब्बीबा’ कहकर रोने लगती है। इस फिल्मम के बैकग्राउंड शोकोर के लिए भी तारीफ बनती है और खासकर जब बाला अपने बालों पर विग लगाता है, तब का मायकूजिक जबरदस्त है।

फिल्मोंम में यूं तो काफी धारणा हैं, लेकिन कुछ सीक्टवेंस जैसे अपने तलाक के दौरान बाला का पछाड़ रियलूनियन में जाना कुछ पलों के लिए अटपटा लगता है।

आखिर में यह कहूंगी कि ‘बाला’ आयु सलमान खुराना का एक और बॉक्‍स ऑफिस सिक्‍सर है और यह जबरदस्‍त निशाने देखने के लिए आपको थिअटर्स जरूर जाना चाहिए। इस फिल्मम को मेरी तरफ से मिलते हैं ४ शतार।

यह भी पढ़ें: कैटरीना कैफ ने अब तक का सबसे हॉट फोटोशूट, फोटो वायरल किया

सलमान खान ने रिलीज किया रजनीकांत की फिल्म दरबार का पोस्टर, लिखी ये बात

window.addEventListener(‘load’, (event) =>
nwGTMScript();
nwPWAScript();
fb_pixel_code();
);
function nwGTMScript()
(function(w,d,s,l,i))(window,document,’script’,’dataLayer’,’GTM-PBM75F9′);

function nwPWAScript()

// this function will act as a lock and will call the GPT API
function initAdserver(forced) (PWT.a9_BidsReceived && PWT.ow_BidsReceived))
window.initAdserverFlag = true;
PWT.a9_BidsReceived = PWT.ow_BidsReceived = false;
googletag.pubads().refresh();

function fb_pixel_code()
(function(f, b, e, v, n, t, s)
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function()
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
;
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
)(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here