Home Sports विष्णु, गणपति-वरुण की जोड़ी ने भी क्वॉलिफाई किया, टोक्यो में पहली बार...

विष्णु, गणपति-वरुण की जोड़ी ने भी क्वॉलिफाई किया, टोक्यो में पहली बार उतरने चार भारतीय सेलर होंगे

9
टोक्यो में होने वाले खेलों में देश के चार सेलर हिस्सा लेंगे (@WeAreTeamIndia/Twitter)

नई दिल्ली। विष्णु सरवनन के अलावा गणपति चेंगप्पा और वरुण ठक्कर की जोड़ी ओमान में एशियाई क्वॉलिफायर के माध्यम से ओल के लिए क्वॉलिफाई द्वारा भारतीय खेलों के इतिहास में नए अध्याय जोड़ने में सफल रहे, क्योंकि पहली बार ऐसा होगा कि टोक्यो में होने वाले खेलों में देश के चार सेलर होंगे। भाग लेना। बुधवार को नेत्रा कुमानन टोक्यो खेलों के लिए क्वॉलिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला सेलर बनी थी। उन्होंने मुसनाह ओपन चैंपियनशिप के माध्यम से लीजेंड रेडियल स्पर्धा में क्वॉलिफाई किया। यह प्रतियोगिता एशियाई ओल क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट की थी।

भारत पहली बार ओल में तीन स्पर्धाओं में चुनौती पेश करेगा। अब तक भारत ने ओल की सिर्फ एक ही स्पर्धा में चुनौती पेश की थी, लेकिन चार मौकों पर उसके दो सेलर खेलों के महाकुंभ में जगह बनाने में सफल रहे हैं। भारतीय संघ के संघ के संयुक्त सचिव कैप्टन जितेंद्र दीक्षित ने पीटीआई से कहा, ” हां, इतिहास रचा गया है। चार भारतीय सेलर ने ओल की तीन स्पर्धाओं के लिए क्वॉलिफाई किया है। यह क्वॉलिफाई करने वाले सेलर की अधिकतम संख्या है और साथ ही स्पर्धाओं की भी। ‘

उन्होंने कहा, ” नेत्रा ने बुधवार को ही क्वॉलिफाई कर लिया था और आज विष्णु और फिर गणपति और वरुण की जोड़ी ने क्वॉलिफाई किया। ” भारतीय कोच टॉमस जानुजेवस्की ने कहा कि ये परिणामजेकर, उनके माता-पिता और कोचों की सालों की पढ़ाई है। कड़ी मेहनत का नतीजा हैं। टॉमस ने ओमान से पीटीआई से कहा, ” इस एतिहासिक दिन और भारतीय सेलिंग को नए स्तर पर ले जाने के लिए हमारे चैंपियन खिलाड़ियों को बधाइयां। ” कोच ने खेल मंत्रालय, भारतीय खेल प्राधिकरण और भारतीय संघ को भी लगातार सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

टॉमस ने कहा, ” निजी तौर पर मुझे उम्मीद है कि यह भारतीय सेलिंग में नए युग की शुरुआत होगी। सेलर और उनके पीछे का समुदाय शानदार है। समय आ गया है कि वे अपनी पहचान बनाएं और स्थानीय और आंतरिक स्तर पर चमकें। ” गुरुवार को सरवनन लेजर स्टैंडर्ड क्लास में क्वॉलिफाई करने वाले पहले भारतीय रहे। उन्होंने थाईलैंड के कीराती बुआलोंग को पछाड़कर ओवरआल के दूसरे स्थान पर रहते हुए ओवरी कोटा हासिल किया। सरवनन के 53 जबकि बुआलोंग के 57 अंक रहे। सिंगापुर के रेयान लो जुन्टन 31 अंक के साथ शीर्ष पर रहे ।बाद में चेंगप्पा और ठक्कर की जोड़ी 49 ईआर क्लास में अंक तालिका में शीर्ष पर रहते हुए टोक्यो खेलों में जगह बनाने में सफल रही। इन दोनों ने इंडोनेशिया में 2018 एशियाई खेलों मे ब्रॉन्ज पदक जीता था। खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्वीट किया, ” मैं भारतीय खिलाड़ियों नेत्रा कुमानन, केसी गणपति और वरुण ठक्कर को बधाई देता हूं जो टोक्यो ओलंपिक की सेलिंग प्रतियोगिता के लिए क्वॉलिफाई किया। मैं विशेष रूप से नेत्रा के कोटा हासिल करने से गौरवांवित हूं जो ओल में क्वॉलिफाई करने वाली पहली भारतीय सेलर हैं। ”

रिजिजू ने इससे पहले सरवनन को बधाई देते हुए ट्वीट किया था, ” मैं विष्णु सरवनन को बधाई देता हूं जो मुसनाह श्रृंखलाबद्धता के माध्यम से टोक्यो ओलंपिक की लेजर स्टैंडर्ड क्लास सेलिंग स्पर्धा में क्वॉलिफाई किया। हमारे खिलाड़ी सभी खेलों में छाप छोड़ रहे हैं। ’’ सेलिंग की 49 ईआर क्लास स्पर्धा में दो खिलाड़ी जोड़ी बनाते हैं, जबकि लेस्बियन क्लास एकल स्पर्धा है।

लेजर क्लास की स्पर्धा में दो सेलर टोक्यो ओल में जगह बना सकते हैं जबकि 49 ईआर वर्ग में एक टीम क्वॉलिफाई कर सकती है। बुधवार तक तीसरे स्थान पर चल रहे सरवनन ने गुरुवार को पदक रेस जीतकर कुल दूसरे स्थान के साथ ओलम्पिक हासिल किया। उनके 53 अंक रहे। दीक्षित ने कहा, ” बुधवार तक विष्णु थाईलैंड के सेलर के बाद तीसरे स्थान पर चल रहे थे, हालांकि दोनों के समान अंक थे। आजदल रेस में विष्णु पहले स्थान पर रहे और इसलिए अंक तालिका में थाईलैंड के सेलर से ऊपर रहे। ‘

दीक्षित ने बताया, ” लीजेंड वर्ग में दो सेलर ने ओल में जगह बनाई और विष्णु के दूसरे स्थान पर रहे। सिंगापुर का सेलर विष्णु से आज काफी आगे था और इसलिए विष्णु उसे नहीं पचाड़ पाया (शीर्ष स्थान से)। ’’ नेत्रा लेजर रेडियल क्लास पेपर टेबल में गुरुवार को छठे स्थान पर रहे लेकिन इसके बावजूद ओवरआल 30 अंकों के साथ ओल के साथ जगह बनाने में। सफल हो रही है। नीदरलैंड की एमा सावेलोन गुरुवार को बाल रेस में चौथे स्थान पर रहने के बावजूद 29 अंकों के साथ ओवरऑल टेबल में शीर्ष पर रही।

इससे पहले चार मौकों पर दो भारतीय सेलर ने ओल के लिए क्वॉलिफाई किया है लेकिन उन्होंने समान स्पर्धा में ऐसा किया था। टोक्यो में भारत एक से अधिक स्पर्धा में भाग लेगा। फारुख तारापोर और ध्रुव भंडारी की जोड़ी ने 1970 में 470 वर्ग में हिस्सा लिया था जबकि तारापोर और कैली राव ने 1988 खेलों में इसी स्पर्धा में हिस्सा लिया था। तारापोर ने 1992 में बारसीलोना में अपने तीसरे ओल में साइरस कामा के साथ इसी स्पर्धा में हिस्सा लिया था। मानव श्राफ और सुमित पटेल ने 2004 एथेंस ओल में 49 ईआर क्लास स्किफ में भाग लिया था।

window.addEventListener(‘load’, (event) =>
nwGTMScript();
nwPWAScript();
fb_pixel_code();
);
function nwGTMScript()
(function(w,d,s,l,i)w[l]=w[l])(window,document,’script’,’dataLayer’,’GTM-PBM75F9′);

function nwPWAScript() ;
googletag.cmd = googletag.cmd

// this function will act as a lock and will call the GPT API
function initAdserver(forced)
if((forced === true && window.initAdserverFlag !== true)

function fb_pixel_code()
(function(f, b, e, v, n, t, s)
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function()
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
;
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
)(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here