Home Bollywood Movie Reviews सेक्स कॉमेडी के नाम पर ठोकर है ग्रेट गैंड मस्ती

सेक्स कॉमेडी के नाम पर ठोकर है ग्रेट गैंड मस्ती

10
सेक्स कॉमेडी के नाम पर ठोकर है ग्रेट गैंड मस्ती

फिल्म ‘ग्रेट गैंड मस्ती’ में जब एक सांप अफताब शिवदासानी के पिछड़े में उसे डस लेता है, वह अपने बस्ट फ्रैंड्स रितेश देशमुख और विवेक ओबेरॉय पर जोर देती है कि उसकी जाने वाली के लिए पिछवाड़े से सांप का जहर चूसना कर दें।

नई दिल्ली। फिल्म ‘ग्रेट गैंड मस्ती’ में जब एक सांप अफताब शिवदासानी के पीछे उसे डस लेता है, तो वह अपने फ्रैंड्स रितेश देशमुख और विवेक ओबेरॉय पर जोर देती है कि उसकी जाने बचाने के लिए उन सांपों की जहर चूसना कर दें। जब रितेश देशमुख, अपनी नौकरानी को पैसे देता है जिसे वह अपने ब्लाउज में रखती है, वह उसे पैसे देता चला जाता है इस उम्मीद में की उसकी ब्लाउज आखिर फट जाए। डेस्परर ही ‘ग्रेट गैंड मस्ती’ की मेन थीम है, और ये सिर्फ फिल्म के तीन सेक्सुअली फ्रस्ट्रेड हीरोज ही नहीं हैं जो इसके शिकार हैं, बल्कि इस फिल्म के मेकर्स भी फिल्म के बचकाने प्लॉट के लेजनेस में नए बैंच सेट सेट हैं। तीन शादीशुदा दोस्त, जो अपनी बीवियों से कोई खुशी नहीं पाते, वे एक दूर-दूर गांव जाते हैं इस उम्मीद में की वो कुछ गांव की गोरियों को सेड्यूस करें। पर सब कुछ बदला जाता है जब फिल्म में इन ऑवरसेक्स्ड हीरोज् का सामना एक खूबसूरत वर्जिन ग्राफ से होता है। जो उन तीनों को एक हवेली में कैद कर लेती है और उन्हें डरा-वृका कर खुद के साथ सोने पर मजबूर करती है। डायरेक्टर इंद्र कुमार की 2013 की फिल्म ‘ग्रैंड मस्ती’ के जैसे ही, ये फिल्म भी लड़कियों को दो तरह से स्टेरियल्स तक सीमित कर के रख देती है- वो झगड़ालू औरत जो हुर की सेक्स लाइफ में बाधा बनती है, और वो जो टाइट कपड़े पहनती हैं पहने हुए लोगों को सेक्स की उम्मीद जगाती है। इस फिल्म में औरतों का और कोई नहीं है, यहाँ तक की उस काल्पनिक सास को भी आखिर एक भद्दे सेक्स जोक्स में इनवोल्व कर लिया जाता है ।फिल्म में कुछ मॉमेंट्स में रितेश देशमुख और आफताब शिवसानी हमें याद दिलाते हैं कि उनकी फिजिकल कॉमेडी बहुत शानदार है है, पर फिल्म के ज्यादातर हिस्सों में ये लड़के अजीब-अजीब पहलू बना रहे हैं और इतना सारा क्लीवेज देख कर अपनी आंखें बड़ी रही हैं। फ्रैंकली ये ऐसी बचकाना ह्यूमर है जिस पर हम स्कूल में बैक बैंच पर बैठे कर हंसा करके थे मास्टरबेशन जॉक्स, वायोग्राम जॉक्स, पिछली फिल्म से राइजिंग टेबल का वो गग, और वो सीन जिसमें आफताब पियानो बजा रहा है। अल, इनमें से कुछ भी अरिजनल या इनवेंटिव नहीं है। कोई भी एक सेक्स कॉमेडी से स्मार्टनेस नहीं एक्सपर्ट करता है, पर ग्रेट गैंड मस्ती, सनी लियोनी की रिसेंट फिल्म मस्तीजादे जितने आउटरेज या ऑफेंसिव भी नहीं है। ये प्लेन डल और बोरिंग फिल्म है। मैं ग्रेट गैंड मस्ती को पांच में से जीरो स्टार देता हूं।



<!–

–>

<!–

–>

window.addEventListener(‘load’, (event) =>
nwGTMScript();
nwPWAScript();
fb_pixel_code();
);
function nwGTMScript()
(function(w,d,s,l,i))(window,document,’script’,’dataLayer’,’GTM-PBM75F9′);

function nwPWAScript() ;
googletag.cmd = googletag.cmd

// this function will act as a lock and will call the GPT API
function initAdserver(forced)
if((forced === true && window.initAdserverFlag !== true)

function fb_pixel_code()
(function(f, b, e, v, n, t, s)
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function()
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
;
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
)(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here